दीन-ए-इस्लाम में ज़िन्दगी के लिए एक मुकम्मल निज़ाम: सैयद लईक

तुर्कमानपुर में जलसा-ए-ग़ौसुलवरा व किरात-अज़ान का मुकाबला गोरखपुर। निकट पोस्ट आफिस, चिंगी शहीद तुर्कमानपुर में सोमवार को मरहूम हाजी अली अहमद राईन नक्शबंदी के चेहल्लुम पर जलसा-ए-ग़ौसुलवरा हुआ। बच्चों के बीच नात, किरात व अज़ान का इनामी मुकाबला भी हुआ। जलसा संयोजक इं. हाजी सेराज अहमद कादरी नक्शबंदी ने बच्चों को इनाम से नवाज़ा। इसके बाद जलसा-ए-ग़ौसुलवरा हुआ। मुख्य अतिथि पीरे तरीकत सैयद मो. लईक क़ादरी नक्शबंदी ने कहा कि दीन-ए-इस्लाम ने ईमानियात, इबादात, मुआमलात और मुआशरत में पूरी ज़िन्दगी के लिये इस तरह रहनुमाई की है कि हर शख़्स…

Read More