गोंडा व बलरामपुर 

रमज़ान में असहाय की सहायता जरुर करें: मुफ्ती मोहम्मद असरार अहमद फ़ैज़ी

गोण्डा: 18-4-2021शनिवार को खलीफऐ हज़ुर ताहिरे -मिलत हज़रत अल्लामा मुफ़्ती मुहम्मद असरार अहमद फ़ैज़ी वाहिदी मुदज़िला-उल-अली, सदर रज़ा अकादमी गोंडा जिला, यूपी ने एक प्रेस विज्ञप्ति में अपने विचार व्यक्त किए! कहा कि पवित्र कुरान और जीवनी पवित्र पैगंबर हूजूर सललाहू ताअला अलैहि वसल्लम की शिक्षाओं ने हमें सिखाया है कि सबसे अच्छा व्यक्ति वह है जो दूसरों को लाभ पहुंचाता है और किसी को नुकसान नहीं पहुंचाता है।गरीबों, जरूरतमंदों और आम लोगों के दिलों को खुशी से भर दें, हो सकता है कि वह अपने जीवन के क्षणों को…

Read More
गोरखपुर 

रोज़ा रखकर दूसरे की भूख प्यास का अहसास होता है: कारी अख़्तर

मदीना मस्जिद नौतन निकट मेडिकल कालेज के इमाम कारी अख़्तर रज़ा नूरानी ने बताया कि साल के बारह माह में रमज़ान सबसे खास महीना होता है। पूरे महीने लोग रोजा रखकर अल्लाह की इबादत करते हैं। नेक काम करते हैं। इस माह में नेकी करने वालों को सवाब बहुत अधिक मिलता है। अल्लाह का जिक्र करें। जकात ,सदका, खैरात व फित्रा अदा करें। लोगों को इस माह अपने अंदर के गुस्से व बुराईयों को निकाल देना चाहिए। यह माह एक तरह से ट्रेनिंग का माह होता है। रोजा रखकर दूसरे…

Read More
गोरखपुर 

रमज़ान अज़मत व बरकत वाला महीना, खूब करें इबादत، मौलवी चक बड़गो में महिलाओं का जलसा

गोरखपुर। माह-ए-रमज़ान के मद्देनज़र बुधवार को नई कॉलोनी सफेदी बगिया मौलवी चक बड़गो में महिलाओं का जलसा हुआ। क़ुरआन-ए-पाक की तिलावत काशिफा बानो ने की। नात-ए-पाक नौशीन फातिमा व इलमा नूर ने पेश की। मुख्य वक्ता मदरसा क़ादरिया तजवीदुल क़ुरआन निस्वां अलहदादपुर की महजबीन सुल्तानी ने कहा कि अल्लाह का बहुत बड़ा एहसान कि उसने हमें माह-ए-रमजाऩ जैसी अज़ीमुश्शान नेमत से सरफ़राज़ फ़रमाया। रमज़ान में हर नेकी का सवाब 70 गुना या इससे भी ज़्यादा है। नफिल का सवाब फ़र्ज़ के बराबर और फ़र्ज़ का सवाब 70 गुना कर दिया…

Read More
गोरखपुर धार्मिक 

रमज़ान का आगाज़ अप्रैल से, पहला रोज़ा सबसे छोटा आख़िरी सबसे बड़ा

गोरखपुर। मुकद्दस रमजाऩ का आगाज़ अप्रैल माह से हो रहा है। चांद के दीदार के साथ 13 या 14 अप्रैल से मुकद्दस रमजाऩ शुरु हो जाएगा। पहला रोजा 14 घंटा 8 मिनट का होगा। जो मुकद्दस रमज़ान का सबसे छोटा रोजा होगा। वहीं अंतिम रोजा 14 घंटा 52 मिनट का होगा। जो सबसे मुकद्दस रमज़ान का सबसे बड़ा रोजा होगा। रमजाऩ कैलेंडर व कार्ड जारी होना शुरु हो चुके हैं। सोशल मीडिया पर रमज़ान कैलेंडर व कार्ड भी शेयर किए जा रहे हैं। रमज़ान में सहरी व इफ्तार बहुत अहम…

Read More