अल्लाह के वली: जिनका जनाज़ा 12 साल तक उनके मुरीद लेकर घूमते रहे

नाम :हज़रत कुतुब शाह गौरी रहमतुल्लाह अलैहेकर्नाटक का शहर कोलार हज़रत कुतुब शाह गौरी के वैसे तो लाखो मुरीद थे लेकिन उन मुरीदों में आपके 70 मुरीद ऐसे थे जो बहुत खास और साथ रहने वाले थे अापने अपने उन मुरीदों को बुलाया और वसीयत की के जब मेरा विसाल हो जाए तो मेरे जनाजे को वहा दफन करना जहा मेरा जनाजा खुद रुक जाए आपके मुरीदों ने आपकी वसीयत को कुबूल किया और कुछ अर्से बाद आपका विसाल हो गया आपके मुरीदों ने आपकी वसीयत के मुताबिक गुस्ल दिया…

Read More