गोरखपुर 

गोरखपुर: शबे बराअत में अदा की नमाज़, पढ़ा क़ुरआन, मांगी दुआ

गोरखपुर। गुनाहों से निज़ात की रात शबे बराअत के मौके पर मुसलमानों ने अल्लाह की इबादत कर खैरो बरकत की दुआ मांगी। गुनाहों से तौबा की। पूर्वजों के नाम पर सदका व खैरात कर उन्हें याद किया। कब्रिस्तानों में पुरखों की कब्रों पर अकीदत के फूल पेश किए। उनके नाम से फातिहा दिलाई और गरीबों, बेसहारा, यतीमों में खाना व हलुवा तकसीम किया। वलियों की दरगाहों पर जाकर जियारत की। रविवार को जैसे ही मग़रिब (शाम की नमाज़) की अज़ान हुई बच्चें, नौज़वान, बुजुर्ग मस्जिदों की तरफ निकल पड़े। महिलाओं…

Read More
गोरखपुर 

बदलेगा ज़माना लाख मगर क़ुरआन न बदला जाएगा: मुफ्ती अलाउद्दीन

वसीम रिज़वी पर उलेमा व अवाम का फूटा गुस्सा, याचिका खारिज करने की मांग गोरखपुर। क़ुरआन से 26 आयतें हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करने वाले वसीम रिज़वी के खिलाफ मुसलमानों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। वसीम रिज़वी की गिरफ्तारी व सुप्रीम कोर्ट से याचिका खारिज करने की मांग जोर पकड़ रही है। तंजीम उलेमा-ए-अहले सुन्नत के बैनर तले रविवार को नार्मल स्थित दरगाह हज़रत मुबारक खां शहीद परिसर में औरतों के जलसे के बाद पुरुषों का जलसा हुआ। जिसमें बड़ी संख्या में उलेमा व अवाम…

Read More