अल्लाह का संदेश व हिदायत है कुरआन-ए-पाक में: कारी निसार

गोरखपुर। मोहल्ला माटपुरवा में जलसा-ए-मेराजुन्नबी हुआ। कुरआन-ए-पाक की तिलावत से जलसे का आगाज़ हुआ। नात-ए-पाक पेश की गई। मुख्य वक्ता कारी निसार अहमद निज़ामी ने कहा कि सभी के लिए कुरआन-ए-पाक की तालीम हासिल करना बहुत जरूरी है। मुसलमानों को चाहिए कि वह अपने बच्चों को कुरआन-ए-पाक जरूर पढाएं। कुरआन पढ़ने और पढ़ाने में बहुत सवाब है। आख़िरी पैगंबर हज़रत मोहम्मद सल्लल्लाहो अलैहि वसल्लम पूरी इंसानियत के लिए रहमत बनकर आये। आपने इंसानों को उसके हकीकी मालिक अल्लाह से मिलाया। पैगंबर-ए-आज़म पर नाज़िल होने वाली किताब कुरआन-ए-पाक भी एक विशेष…

Read More