तोंद

लेखक: अब्दे मुस्तफ़ा हज़रते उमर फारूक़ रदिअल्लाहु त’आला अन्हु ने एक तोंद वाले (यानी पेट बाहर निकले हुये) शख्स को देखा तो पूछा :ما ھذا؟“ये क्या है?”उस ने कहा कि “ये अल्लाह की तरफ़ से बरकत है”आप ने फरमाया: ये बरकत नहीं बल्कि अल्लाह की तरफ़ से अज़ाब है। (مناقب امیر المومنین عمر بن الخطاب، ص194) हज़रत फारूक़ -ए- आज़म फरमाते हैं : ए लोगों! अपने आप को तोंद वाला होने से बचाओ यानी खाने पीने के सबब अपना पेट बड़ा होने से बचाओ क्योंकि मोटापा तुम्हारे वुजूद को खराब…

Read More